IPL से स्वदेश वापसी की कवायद में मालदीव जा सकते हैं ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी


Ahmedabad Stadium- India TV Hindi
Image Source : IPLT20.COM
Ahmedabad Stadium

नई दिल्ली| भारत से आने वाली उड़ानों पर देश में लगे प्रतिबंध के कारण इंडियन प्रीमियर लीग के निलंबित होने के बाद अब ऑस्ट्रेलियाई दल के स्वदेश रवाना होने से पहले मालदीव जाने की संभावना है। ऑस्ट्रेलियाई दल में खिलाड़ी, सहयोगी स्टाफ और कमेंटेटर शामिल हैं। कोलकाता नाइट राइडर्स, दिल्ली कैपिटल्स, सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपरकिंग्स की टीमों में कोविड-19 संक्रमण के कई मामले आने के बाद मंगलवार को आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए निलंबित कर दिया गया। 

कोच और कमेंटेटर के अलावा ऑस्ट्रेलिया के 14 खिलाड़ी अभी भारत में हैं और ऑस्ट्रेलियाई सरकार के भारत से लौटने वाले लोगों पर कड़ी बंदिशे लगाने के बाद वह दूसरे रास्ते स्वदेश लौट सकते हैं। ईएसपीएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट के अनुसार, ‘‘ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों, कोच और सहयोगी स्टाफ के बड़े समूह के मालदीव जाने की उम्मीद है जिससे कि कोविड-19 संक्रमण फैलने कारण भारत में मौजूद नागरिकों के लिए ऑस्ट्रेलियाई सीमा बंद करने और आईपीएल 2021 के निलंबित होने से बनी स्थिति से निपट सकें। ’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘आईपीएल के जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में अभी खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ और कमेंटेटर के रूप में लगभग 40 ऑस्ट्रेलियाई हैं।’’ इसके अनुसार, ‘‘पैट कमिंस, स्टीव स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल, रिकी पोंटिंग, साइनम कैटिच जैसे लोगों के कमेंटेटर माइकल स्लेटर से जुड़ने की उम्मीद है जो पहले ही मालदीव रवाना हो चुके हैं।’’ 

नाइट राइडर्स से अनुबंध करने वाले शीर्ष तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने इस स्थिति को अभूतपूर्व बताया। कमिंस ने फॉक्स स्पोर्ट्स के द बैक पेज से कहा, ‘‘जब हम ऑस्ट्रेलिया से बाहर निकले थे तो हमें पता था कि हमें स्वदेश लौटते हुए 14 दिन पृथकवास में गुजारने होंगे लेकिन सीमाएं बंद होने से किसी ने भी इससे पहले इस स्थिति का अनुभव नहीं किया था।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘इससे यहां मौजूदा ऑस्ट्रेलियाइयों में थोड़ी घबराहट है लेकिन हमने जून की शुरुआत तक टूर्नामेंट में खेलने का अनुबंध किया था इसलिए उम्मीद है कि सब कुछ 15 अप्रैल तक खुल जाएगा और हम वापस लौट पाएंगे।’’





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: