Make detox water at home, drink it in 4 hours, these diffused drinks are also immunity boosters | घर पर डिटॉक्स वाटर बनाएं तो उसे 4 घंटे में पिएं, इम्युनिटी बूस्टर भी हैं ये डिफ्यूज्ड ड्रिंक्स


  • Hindi News
  • Women
  • Make Detox Water At Home, Drink It In 4 Hours, These Diffused Drinks Are Also Immunity Boosters

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • गरम पानी के बजाय इन दिनों ट्राय कर सकते हैं हर्ब्स, फल और सब्जियों से बनीं ड्रिंक्स

हमारी लाइफस्टाइल, खान-पान की वजह से हमारे शरीर में टॉक्सिस जमा होने लगते हैं और धीरे-धीरे कई बीमारियां होती हैं इसलिए समय-समय पर डिटॉक्सीफिकेशन करना जरूरी होता है। वैसे तो इसके कई तरीके होते हैं लेकिन सबसे आसान है वाटर डिटॉक्स। लेकिन, शहर के फूड ब्लॉगर और डाइटिशियन का सुझाव है कि अगर आप घर पर ही डिटॉक्स वाटर बना रहे हैं, तो जरूरी है कि 3 से 4 घंटे के अंदर पी लें।

बॉडी को हाइड्रेट और डिटॉक्स रखना जरूरी

फूड ब्लॉगर मुद्रा केसवानी ने कहा कि मुझे हाल ही में कोरोना हुआ था जिसमें इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए मैंने तुलसी और बैसिल के पानी का इस्तेमाल किया। इससे इम्यून सिस्टम मजबूत हुआ। ये दोनों ही डिटॉक्स वाटर रूम टेम्प्रेचर पर ही होने चाहिए। जो जल्द ही असरदार होता है। साथ ही, बॉडी को हाइड्रेट और डिटॉक्स रखना जरूरी है। इसके अलावा, नारियल पानी में फ्रूट्स एंड वाटरमेलन जैसी चीजें बॉडी हाइड्रेट करने में काफी मदद करती है।

घर में मौजूद हर हर्बल चीज से बन सकता है सेहत भरा शरबत

पानी, हल्दी और पालक का डिटॉक्स वॉटर

पालक एक बहुत ही बढ़िया डिटॉक्सीफाइंग एजेंट है। पालक को हल्दी के साथ पीस कर स्मूदी बनाएं। एक दिन में एक से दो कप लिया जा सकता है। कोशिश करें, पालक के कुछ पत्ते रोजाना की डाइट में शामिल हों। हल्दी में एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टीज होती हैं, पालक इम्यूनिटी बूस्ट करता है।

आम और तुलसी

आम पाचन कोलेस्ट्रॉल को कम और इंसुलिन को सुधार करने में मदद करता है। तुलसी के पत्ते में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जिससे कई बीमारियों से बचा जा सकता है।

एक ऐसी चाय

3-4 लौंग, इलायची, दालचीनी, अदरक, काली मिर्च को पीसकर चाय में उबालें। छानकर ठंडा होने दें। रूम टेम्प्रेचर पर आ जाए तो शहद और नींबू डालकर सर्व करें।

मिलते हैं विटामिन, मिनरल्स और एंटीऑक्सिडेंट

डायटीशियन निधी पांडेय ने बताया, ड्रिंक्स में मसालों के साथ शहद और नींबू डालते हैं, जिससे मसालों की गर्म तासीर संतुलित होती है। गुड़ व इमली के जरिए बॉडी में विटामिन, मिनरल्स और एंटीऑक्सिडेंट मिलते हैं। शलजम से इम्युनिटी बूस्ट होती, कफ में काफी आराम मिलता है। इम्युनिटी बूस्टर ड्रिंक्स में हर्ब्स, खट्टे फल डालें। ड्रिंक्स में काला नमक और काली मिर्च जरूर डालें।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: